June 26, 2019

हमारे देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की आज 150वी जयंती है। इस अवसर पर पूरा देश ही याद कर रहा है। हम सभी उनके बारे में जानते है और बचपन से पढ़ते भी आये हैं। मगर ऐसी कई बाते हैं जिनके बारे में हम आज भी अनजान हैं। इन्ही में से एक बात है बापू की अच्छी सेहत का राज़। हर कोई ये जानना चाहेगा कि बापू की सेहत के क्या राज़ थे, जो उन्हें उम्र के हर पड़ाव पर फिट बनाए रखते थे। आइये गांधी जयंती पर जानते है उनकी सेहत से जुड़े कुछ राज़।

महात्मा गांधी नियमित रूप से मेडिटेशन किया करते थे। मेडिटेशन करने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है और मन शांत रहता है।

एक स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी है स्वस्थ दिमाग जो सिर्फ मिलता है सकारात्मक सोच से। बापू का मानना था कि जैसी हमारी सोच होगी उसका वैसा ही असर हमारी सेहत पर भी पड़ेगा।

जल्दी सोना और जल्दी उठना उनकी जीवनशैली का एक अहम हिस्सा था। वैसे तो बापू सिर्फ 4-5 की ही नींद लिया करते थे। उनकी आदत थी कि वो ब्रह्ममुहूर्त में ही उठ जाया करते थे। एक अच्छी सेहत के लिए बहुत जरूरी है सही और पर्याप्त नींद लेना।

वैसे तो सब जानते हैं कि व्रत उपवास तो बस पूजा-पाठ का ही हिस्सा है मगर बापू का मानना था कि व्रत हफ्ते में एक बार जरूर रखना चाहिए जिससे पेट साफ़ रहता है और पेट की चर्बी भी काम होती है। डाइट फॉलो करने वाले भी इस बात से इनकार नहीं करते हैं कि डाइट फॉलो करते वक़्त भी वो बस लो फैट खाना या फ्रूट्स पर ही निर्भर रहते हैं। खाना भी थोड़ी मात्रा में ही खाते हैं.

धूम्रपान सेहत के लिए हानिकारक होता है। ये बात तो शराब-तंबाकू पर भी प्रिंट रहता है। महात्मा गांधी शराब और तंबाकू दोनों ही चीजों से दूरी बनाए रखने की सलाह देते थे। फेफड़ों का कैंसर, दिल की बीमारी, हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों का सबसे बड़ा कारण है तंबाकू।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर  ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Divya Shukla

View all posts

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *